ट्रिप का मज़ा विथ वोड्का

हेलो दोस्तो मैं अरिश राज आज आपको अपनी न्यू स्टोरी सुनाता हू जोकि मेरे साथ अभी अभी हुई है हुआ यू की अपने ऑफीस के काम से दूसरे सिटी जा रहा था जोकि तीन घंटे की दूरी पे है तो मैने मॉर्निंग मे 6एम की बस ली अभी ठंड का मौसम है तो बस मे ज़्यादा भीड़ नही थी और मैं एक खाली सीट देख कर बैठ गया थोड़ी देर बाद मुझे नींद आ गयी मैं सो गया बस चल पड़ी थी, थोड़ी देर के बाद धूप निकली और मेरे विंडो साइड से धूप आने लगी जिससे मुझे काफ़ी अछा लग रहा था और मैं मज़े मे सो रहा था कुछ देर के बाद मुझे किसी ने क्नॉक किया तो मैं जगा एक मस्त भाभी जी सारी पहने और समान लिए खड़ी थी बोली क्या मैं आपके साथ बैठ सकती हूँ तो मैने बोला काफ़ी सीट खाली है कही भी बैठ जाओ तो बोली इस तरफ से धूप आ रही है क्या मैं आपके साथ बैठ जाउ प्लीज़, मैं थोड़ा साइड हो गया और वो बैठ गयी एंड थॅंक्स बोला मैने बोला इट्स ओके मुझे भी ठंड लग रही थी अब आप आ गयी हो तो ठंड कम लगेगी तो वो एक स्माइल पास कर दी.

फिर मैं सो गया थोड़ी देर के बाद बस एक होटेल पे रुका मैं सो रहा था और जगा हुआ भी था मीन्स आधी नींद मे था वो उठ कर नीचे गयी और दो कप चाय लेकर आई और मुझे उठा कर बोली चाय पी लीजिए नींद चली जाएगी और गर्मी भी आ जाएगी लगता है आप रात मे ठीक से सो नही पाए है, मैने चाय ली थॅंक्स बोला और मैने बोला एस मैं रात मे सिर्फ़ तीन घंटे ही सोया हूँ क्यूंकी मैं दो दीनो के लिए बाहर जा रहा हूँ तो वाइफ ने काफ़ी देर तक जगाया फिर मॉर्निंग मे उठ कर आना भी था, तो वो बोली तो आपकी शादी हो चुकी है और आप काफ़ी हॉट है तो मैने स्माइल दी बोली क्या करते है आप मैने बता दिया मैं जॉब पे हूँ ऑफीस के काम से जा रहा हूँ, तो वो बोली मैं भी जॉब करती हूँ एंड दो दिन के लिए मुझे काम से भेजा गया है बट मैं आपके सिटी मे न्यू हूँ मैं एमपी की रहने वाली हूँ मेरे हब्बी वही रहते है वो ट्राइ कर रहे है की उनका भी ट्रान्स्फर हो जाए फिर हम लोग साथ रहेंगे ऐसे ही बाते होती रही और फिर हमलोग बस से नीचे आ गये.

यह कहानी भी पड़े  उफ्फ नयी भाभी को दिल खोल के प्यार दिया

हमारी मंज़िल आ गयी थी और फिर हमने एक दूसरे को बाय किया और चल पड़े, मुझे रिसीव करने ऑफीस का स्टाफ आया था बोला सर यही पास मे ही होटेल बुक कर दिया है चलिए फ्रेश हो जाए फिर हमलोग होटेल आ गये फिर वो स्टाफ बोला सर आप फ्रेश हो जाए मैं एक घंटे मे आता हूँ और वो निकल लिया तभी मैने देखा वो भाभी जी भी इसी होटेल मे आई और मुझे देख कर बोली अरे आप भी सेम होटेल मे, एस फिर मनेजर ने बोला सर आप लोग एक दूसरे को जानते है तो सेम फ्लोर मे आपके साथ वाला रूम मेडम को दे देता हूँ मैने बोला ठीक है फिर हम लोग अपने आपने रूम मे शिफ्ट हो गये और थोड़ी देर के बाद भाभी जी मेरे रूम मे आई और बोली रात का खाना आप मेरे साथ लेंगे क्या मैने तुरंत बोला ठीक है कोई बात नही मुझे भी कंपनी मिल जाएगी आप कितने टाइम तक आओगे, मैने बोला 7पीयेम तक आ जाउन्गा वो बोली मैं तो 6पीयेम तक ही आ जाउन्गि एनी वे मैं आपका वेट करूँगी अभी मैं जा रही हूँ मेरी कंपनी की गाड़ी आ गयी है एंड बाय बोल कर चली गयी.

फिर मैं भी थोड़ी देर बाद चला गया स्टाफ लेने आया था शाम को जब मैं वापस आया ठीक 8 बज गये थे वो बाहर ही लॉबी मे मिल गयी बोली मैं आपका ही वेट कर रही थी आप लेट हो, मैने सॉरी बोला फिर मैं रूम मे चला गया फ्रेश होने के लिए दस मिनट के बाद जब मैं बाहर निकला तो देखा लॉबी मे कोई नही है फिर मैने उसका रूम क्नॉक किया अंदर ही थी बोली ठंड है बाहर इसलिए अंदर ही वेट कर रही थी तो मैने बोला की कोई बात नही कहाँ चलना है वो बोली खाना यही मंगवा लेते है और आप ड्रिंक भी लेते है क्या मैने बोला कभी कभी, तो बोली मैं भी कभी कभी लेती हूँ लेकिन होटेल मे ऑर्डर करना ठीक नही होगा प्लीज़ आप बाहर से ले आओ मैने बोला ठीक है और बाहर जाकर वोड्का ले आया और कुछ स्नॅक्स भी जब मैं आया तब तक खाना भी आ चुका था और फिर हमलोगो ने साथ ही ड्रिंक की और खाना भी खाया तब तक उसको वोड्का का असर भी होने लगा था.

यह कहानी भी पड़े  देवर जी ने चुम्मा लेकर अपने मोटे लंड से चोद दिया

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

error: Content is protected !!