संध्या आंटी की चुदाई

फ्रेंड्स मेरा नाम सिद्धार्थ है ये स्टोरी मेरी और मेरे घर मै रेंट से रहने वाली संध्या आंटी के बारे मे है. मै सतारा महाराष्ट्र का रहने वाला हू अगर आपको मेरी स्टोरी अच्छी लगे तो आप मुझे फीडबैक दे सकते है.

अब मैं स्टोरी चालू करता हू ये बात 2 साल पहले की है जब मै इंजिनियरिंग के पहले साल मे था हमारा नया ही घर था और हमारे घर मे 2 फ्लोर्स थे. नीचे वाले फ्लोर पर मै और मेरी फॅमिली रहते थे और उपर वाले फ्लोर पर किराये पर एक फॅमिली रहने को आई थी.

उस फॅमिली मे 4 लोग थे संध्या आंटी ,उनके पति, एक लड़की और संदया आंटी की सासू मा. संध्या आंटी हाउसवाइफ है और उनके पति का कपड़ो की दुकान है तथा उनकी लड़की चौथी स्टैन्डड् मे स्कूल मे पड़ती है.

मै आप को संध्या आंटी के बारे मे बताता हू वो 29 वर्ष की थी जब ये हुआ और मेरी 21 वर्ष थी. संध्या बहुत ही ब्यूटिफुल दिखती है और वो बहुत हॉट और उसकी फिगर तो ऐसी है की मै आप को क्या बताऊ.

जब मैने उसे पहली बार जब हमारे घर आई थी तब देखा तो मै पागल ही हो गया था. वो हमारे घर मे बैठी थी और मै उसके लेफ्ट साइड मे बैठा था तब संध्या ने रेड कलर की साड़ी पहनी थी और ब्लॅक कलर का ब्लाउस था.

और जब हवा आती थी तब उसकी साड़ी का पल्लू उपर उठ रहा था और मेरे सामने संध्या के मोटे मोटे बूब्स दिखाई देते थे ब्लाउस मैं. मुझे उसी दिन संध्या से प्यार हो गया मै उस रात सिर्फ़ उसी के बारे मे सोच रहा था की इसे कैसे पटाना है सेक्स के लिए.

यह कहानी भी पड़े  कच्ची कली कंचन की कामुकता

कुछ दिन ऐसे ही चले गये मै सिर्फ़ संध्या को देखता था और सोचता था की कैसे पटाऊ इसे. तभी एक दिन संध्या आंटी के घर मे कोई नही था और उनका टीवी का डिश कुछ प्राब्लम दे रहा था तभी उन्होने मुझे उपर बुलाया हमारे घर मे भी टीवी का वो ही डिश था इसलिए मुझे सब पता था.

मै उपर गया और देखा तो संध्या आंटी ने एक वाइट कलर की नाइटी पहनी थी और वो नाइटी थोड़ी ट्रांसपेरेंट थी और मुझे सॉफ सॉफ दिख रहा था की उसने अंदर कुछ भी नही पहना था सिर्फ़ नाइटी थी.

उनके निप्पल सॉफ दिख रहे थे उपर से ही ,मै संध्या को देखते-देखते डिश टीवी चेक कर रहा था. तभी संध्या ने मुझे नोटीस किया की मै उसके बूब्स की तरफ घूर के देख रहा हू तभी संध्या ने मुझे अचानक एक हल्की सी स्माइल दी और पूछा तुम कुछ कोल्ड ड्रिंक पीना चाहते हो, तो मैने भी हा बोला और वो किचेन मे चली गयी और मैने डिश टीवी चालू कर के सोफे पर बैठ गया.

तभी संध्या कोल्ड ड्रिंक ले कर आ गयी और मुझे देने के लिए नीचे झुक गयी, तभी मैने जो देखा वो पहली बार इतने क्लोज़ से देख रहा था संध्या के बूब्स नाइटी से बाहर आ रहे थे.

संध्या ने भी मुझे नोटीस किया और उसने तोड़ा भी टाइम बिना वेस्ट किए कोल्ड ड्रिंक बाजू मे रखा और घर का मैन डोर अंदर से लॉक किया और मेरे उपर आ कर बैठ गयी और मुझे बाहो मे ले कर मेरे पूरे फेस पर किस करने लगी, तभी मुझे समझ मे ही नही आ रहा था की मै क्या करू मै चुप चाप उधर ही बैठा रहा.

यह कहानी भी पड़े  भाभीयों ने मुझे बर्बाद और फिर आबाद किया

तभी संध्या ने मुझे कहा की सिर्फ़ देख सकते हो कुछ कर नही सकते क्या, प्लीज़ सिद्धार्थ फक मी बहुत दिन की प्यासी हू, ये सुनकर मेरे अंदर एक गरम ल़हेर सी आ गयी और मेरे अंदर का शेर जाग गया मैने भी उसे ज़ोर से अपने बाहो मे पकड़ लिया और ज़ोर ज़ोर से उसे किस करने लगा.

उसके लिप्स बहुत ज़्यादा स्वीट थे मै उसे बहुत देर तक किस करता रहा, किस करके उसे बहुत सॅटिस्फाइ किया मैने. फिर मैने उसे पूछा सिर्फ़ किस ही करना है या और भी कुछ करना है तभी उसने तोड़ा भी टाइम वेस्ट नही किया और मुझे बेड रूम मे ले कर चली गयी.

फिर बेड रूम मे जा कर मै उसके उपर लेट गया और उसे फिर से किस करने लगा. उसकी पूरी बॉडी इतनी सॉफ्ट और मस्त लग रही थी उस वक्त की मानो जन्नत की पारी के उपर ही सोया हू मुझे ऐसा लग रहा था जिंदगी भर इसे अपने बाहो मे लेकर बैठ जाउ.

फिर मैने इसकी नाइटी उपर करके पूरी निकाल दी और उसके पूरी बॉडी पर किस करने लगा. मैने देखा की उसके चूत पूरी तरह शेव की हुई थी और लग रहा था की संध्या फर्स्ट टाइम सेक्स कर रही है इतनी टाइट चूत थी उसकी उस वक्त, फिर मै उसकी चूत को किस करने लगा, क्या बताऊ आपको क्या मज़ा आ रहा था और क्या टेस्ट आ रहा था उसका..

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

error: Content is protected !!