रेणु के साथ कार मे फुल मस्ती

दोस्तो मैं राज आज एक बहुत ही मस्त कहानी आपके लिए ले कर आया हूँ. मुझे उमीद है, की आप को मेरी ये कहानी पसंद आएगी.

तो चलिए अब कहानी शुरू करते है.

ये बात तब की है, जब मैं 20 साल का था. मैं कॉलेज मे स्टडी कर रहा था. मैं दिखने मे शुरू से हॅंडसम और गुड लुकिंग था.

मैं कॉलेज मे काफ़ी फेमस था, क्योकि मैं एक अच्छा डॅन्सर भी था. मेरी क्लास के 4 लड़के और 3 लड़किया मेरी टीम मे था. हम सब मिल कर कॉलेज हर फंक्षन मे हर बार एक ग्रूप डॅन्स करते थे.

हमारा ग्रूप डॅन्स ही हर बार नंबर वन पोज़िशन पर आता था. तभी हमारी क्लास मे एक रेणु नाम की एक मस्त लड़की आई. उसे लड़की कहना ग़लत होगा.

क्योकि वो एक कयामत थी. उसका फिगर 34-28-36 था. उसको देख कर सारे कॉलेज के लकड़े पागल हो रहे थे. मैं भी उन लड़को मे से एक था.

उसके मस्त जिस्म को देख कर सब पागल हुए घूम रहे थे. सारे लड़के एक रात के लिए उसके साथ अपना बिस्तर गरम करना चाहते थे. क्योकि वो थी ही इतनी मस्त .

उसके बूब्स क्या कमाल के थे, मोटे मोटे बूब्स देखते ही चूसने का मन करता था. वो जान बुझ कर डीप नेक वाले सूट डाला करती थी. जिसमे उसके बूब्स सॉफ सॉफ दिखते थे.

खैर मैं उससे ज़्यादा बात न्ही करता था. क्योकि वो मुझे देखने से ही रंडी लगती थी. कुछ दीनो बाद हमारे कॉलेज मे एक फंक्षन था. टीचर्स ने मुझे काहा की इस बार भी वो मेरी टीम का एक डॅन्स देखना चाहते है.

पर मैने उन्हे सॉफ मना कर दिया, क्योकि मेरी टीम की एक लड़की बहुत ही बीमार चल रही थी. एक दिन टीचर ने मुझे अपने रूम मे बुलाया और रेणु से मिलाया.

यह कहानी भी पड़े  नाचने वाली खूबसूरत रंडी की चुदाई खूबसूरत तरीके से

उन्होने ने काहा की अब ये लड़की तुम्हारी टीम की कमी को पूरा करेगी. मैने उसे देख कर हा कर दी. फिर मैने रेणु के साथ डॅन्स की तयारि शुरू कर दी.

मैने नोटीस किया की रेणु मुझमे कुछ ज़्यादा ही इंटेरेस्ट ले रही है. मैने फिर भी उसकी तरफ कुछ ज़्यादा ध्यान न्ही दिया. एक दिन की बात है, हम कॉलेज से निकलने वाले थे. की तभी बहुत तेज़ बारिश होने लग गई.

करीब 20 मिनिट की बारिश ने ही पूरे कॉलेज मे पानी पानी कर दिया. मैं जैसे तैसे करके कॉलेज की पार्किंग मे गया और अपनी कार मे बैठ गया.

मैं वाहा से निकलने ही वाला था. की तभी किसी ने मेरे कार का लेफ्ट साइड का डोर नॉक किया. मैने ग्लास नीचे किया, तो मैने देखा बाहर बारिश मे भीगति हुई रेणु खड़ी है.

रेणु – राज प्लीज़ मुझे बाहर रोड तक छोड़ दो. इतने पानी मे मैं केसे वहाँ तक जाउंगी.

मैं – आओ बैठो.

फिर रेणु कार मे बैठ गई. मेरी कार के ग्लास ब्लॅक थे, इसलिए अंदर क्या हो रहा है. बाहर किसी को कुछ पता न्ही लगता था.

मैने कार स्टार्ट करी और हम आगे चलने लग गये. कुछ ही देर बाद बहुत ज़ोर से बिजली की आवाज़ हुई, मुझे वैसे रेणु इस रूप मे बहुत मस्त लग रही थी.

वो उपर से लेकर नीचे तक भीगी हुई थी. उसके बूब्स उसकी पतली सी कुरती मे से सॉफ सॉफ दिख रहे थे. मेरा दिमाग़ उसे देख आज पहली बार खराब हुआ था.

मेरा लंड पूरा खड़ा हो चुका था. बिजली कडकने से वो एक दम डर के मारे मुझसे चिपक गई. उसके बूब्स मेरी पेंट पर लग रहे थे. उसके बूब्स जैसे ही लंड पर लगने लगे.

यह कहानी भी पड़े  मेरी सहेली की मम्मी की चुत चुदाइयों की दास्तान-2

तभी मेरा लंड खुशी के मारे उछलने लग गया. मेरा लंड उसके बूब्स पर लग रहा था. मेरे लंड की ये हरकत देख कर रेणु बोली.

रेणु – तुम्हारी पेंट मे कोई चीज़ उछल रही है.

मैं – ये सब तुम्हारी जवानी देख कर हो रहा है.

रेणु – तो ये शांत कर लो ना.

मैं – तुम आज मेरे साथ हो, तो तुम ही क्यो न्ही कर लेती.

रेणु – ठीक है, मैं कर देती हूँ. चलो इसे बाहर निकालो.

ये सुनते ही मैने कार साइड मे रोक ली. वो रास्ता सुनसान था. दूर दूर तक कोई भी न्ही था, मैने अपना 7 इंच का लंड बाहर निकाल दिया. मेरे लंड को देख कर बोली.

रेणु – तुम्हारा लंड तो काफ़ी मस्त है. आज तो मज़ा ही आ जाएगा.

ये कहते ही उसने मेरा लंड अपने मूह मे भर लिया. क्या मस्त रंडी की तरह रेणु मेरा लंड चूस रही थी. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. उसने मेरा लंड चूस चूस कर लाल कर दिया था.

मुझसे अब और न्ही रुका जा रहा था. मैने अपने लंड का सारा पानी उसके मूह मे निकाल दिया. रेणु रंडी की तरह मेरा सारा पानी पी गई. अब मैं और वो कार की पीछे वाली सीट पर गये.

वाहा जाते ही हम दोनो ने एक दूसरे के सारे कपड़े निकाल दिए. मैने उसे नीचे लेटा दिया, और उसके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से चूसने लग गया. क्या कमाल के बूब्स थे, मुझे उसके बूब्स चूसने मे बहुत मज़ा आ रहा था.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

error: Content is protected !!