पूरा दिन साली के साथ

हेल्लो दोस्तो, मैं अभिषेक आज आपके लिए बहुत अच्छी कहानी ले कर आया हूँ. ये कहानी बहुत ही मस्त कहानी है. क्योकि ये कहानी मेरे और मेरी साली के बीच उसके साथ मेरे पहले सेक्स की है.

आप दोस्तो को तो पता ही है, की साली कितनी मस्त होती है. तो अब आप खुद ही सोच सकते हो, की ये कहानी कितनी मस्त होगी.

तो अब बिना देर किए मैं अपनी कहानी को शुरू करता हूँ.

मेरा नाम अभिषेक है, मेरी उम्र 27 साल है. मैं एक जवान मर्द हूँ. मेरी शादी 23 साल की उम्र मे टीना से हो गई थी.

टीना की उम्र उस टाइम 19 साल थी. वो एक जवान और सेक्सी लड़की थी, वैसे आज भी हॉट अंड सेक्सी है. इसमे कोई शक वाली बात न्ही है.

मेरे मम्मी पापा और मैं अपनी वाइफ से खुश था. टीना एक परफ़ेक्ट लड़की है, जिसको घर,बार और रात को बिस्तर संभालना आता है.

उसे खूब अच्छे से पता है, की कैसे एक मर्द को खुश किया जा सकता है. उसकी एक छोटी बेहेन है, उसका नाम रीता है. उसकी उम्र आज 26 साल है. वो अपनी बेहेन टीना से 2 साल छोटी है.

रीता की शादी हो रखी है, रीता शादी के बाद भी टीना से काफ़ी जवान और सुंदर है. जब मेरी शादी टीना से हुई थी. तो मैने रीता को देख कर ही हा करी थी.

क्योकि जब वाइफ के साथ साली भी बॉम्ब हो तो बात ही क्या है. वो दोनो पंजाबन है, इसलिए मैने टीना को देखते ही हा कर दी थी. वो सच मे बहुत ही खूबसूरत थी.

शादी होते ही मैने टीना को बहुत चोदा, मैने उससे अपने सेक्स की आग बहुत अच्छे से शांत करली थी. फिर शादी के 2 साल बाद वो हमारा एक लड़का हो गया. और उससे 1 साल बाद रीता को भी एक लड़की हो गई.

यह कहानी भी पड़े  सावली सलोनी जवान लड़की

दोनो बेहेने अब मा बन चुकी थी. पर दोनो मे सिर्फ़ एक ही फ़र्क था, की टीना ने बच्चे को जन्म नॉर्मल दिया था. और उसकी बेहेन रीता ने ऑपरेशन से बच्चे को जन्म दिया था.

इससे टीना की चूत पहले से काफ़ी खुली हो गई थी. अब सच कहु तो मुझे टीना की चुत मारने मे इतना मज़ा न्ही आता था. पर मुझे इस बात का पता चल गया था, की रीता की चूत अभी भी पहले जैसी टाइट होगी.

इसलिए मेरी नज़र अब रीता पर थी. जब भी वो मेरे घर आती थी. तो मेरे साथ बहुत मस्ती करती थी. मैं उसे मज़ाक मज़ाक मे इधर उधर से छू लेता था.

वो मुझे कुछ न्ही कहती थी. मुझे उसका बूब्स और गांड बहुत ही पसंद थी. उसके बूब्स टीना से बड़े थे. उसके बूब्स देख कर मेरे मूह मे पानी आ जाता था. अब मैने फ़ैसला कर लिया था की कैसे भी करके रीता की टाइट चूत का मज़ा लेना ही है.

रीता के पति एक मार्केटिंग कंपनी मे काम करते थे. इसलिए उन्हे आए दिन ,हफ्ते 2 दिन के लिए बाहर जाना पड़ता था. रीता का घर मेरे घर से 13 कि.मी दूर था. इसलिए जब भी रीता के पति घर से बाहर जाते थे, तो रीता मेरे घर आ जाती थी.

एक दिन मैं अपने ऑफीस मे काम कर रा था. मुझे रीता के पति का फोन आया की वो रीता को मेरे घर भेज रा है. क्योकि वो अपने काम से बाहर जा रा है. मैने ठीक है कह कर फोन कट कर दिया.

यह कहानी भी पड़े  पूजा दीदी और जीजू की सुहागरात

पिछले कुछ दीनो से मुझे टीना के साथ सेक्स करने मे मज़ा न्ही आ रा था. इसलिए जब मुझे रीता के आने का पता चला, तो मेरा लंड मचलने लग गया. मैं शाम को ऑफीस का जल्दी से ख़तम करके वाहा से निकल लिया. जब मैं घर आया तो मैने देखा.

की रीता अपनी बेहेन के साथ बैठ कर हस्स हस्स कर बातें कर रही थी. उसने बस मुझे हस्स कर नमस्ते कर दी थी. मुझे उससे ये उमिद न्ही थी, मुझे लगा की वो अपने जीजू को देख कर उससे लिपट जाएगी.

पर ऐसा तो बिल्कुल भी न्ही हुआ. फिर मैं अपने रूम मे बैठ गया और फोन पर अपना टाइम पास करने लग गया. थोड़ी देर मे रात हो गई, और टीना मेरे लिए मेरे ही रूम डिन्नर ले कर आ गई. मैने अपने रूम मे ही डिन्नर कर लिया.

वो दोनो साथ वाले रूम मे बैठ कर डिन्नर कर रही थी. डिन्नर के बाद मैं वही सो गया. पर साथ वाले रूम मे टीना और रीता दोनो ज़ोर ज़ोर से हस कर बातें कर रही थी. उनकी आवाज़ से मैं सो न्ही पा रा था. अब मुझे भी नींद न्ही आ रही थी.

मेरा और मेरे लंड का ध्यान रीता पर लगा हुआ था. मेरा मन उसे चोदने का बहुत हो रा था. रीता के चक्कर मे मुझे नींद न्ही आ रही थी. इसलिए मैने अपना फोन निकाला और उसकी फोटो निकाल कर अपना लंड ज़ोर ज़ोर से उपर नीचे करने लग गया.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!