नई भाभी के साथ सेक्स

बाद में भाभी ने मेरी तरफ हसके देखा और कहा : तुम्हारी गर्लफ्रेंड ज्यादा अच्छी है या मैं?

मैंने कहा आपके सामने वह कुछ भी नहीं हे भाभी.

भाभी ने कहा हां वह तो मैं देख रही हूं जब से तुम आये हो. और उन्होंने मेरे टेंट की तरफ इशारा किया और में शरमा गया.

भाभी बोली शरमा क्यों रहे हो देवर जी अपनी भाभी के साथ थी वैसे बात कर सकते हो जैसे कल अपनी गर्लफ्रेंड के साथ कर रहे थे.

यह कहते ही उन्होंने मुझे पकड़ा और मुझे किस करना स्टार्ट कर दिया और में भी पागलों की तरह उन्हें किस करने लगा. कभी वह मेरी जीभ अपने मुह में लेकर चुस्ती तो कभी में उनकी जीभ अपने मुह में लेकर उसे सहलाता था. भाभी की गर्म सांसे में अपने मुह पर महसूस कर रहा था और में आपको बता नहीं सकता की मुझे कितना मजा आ रहा था. 15 मिनट के किस के बाद मैंने उनकी स्लिप को उतार दी उन्होंने अंदर कुछ भी नहीं पहना था ना ब्रा पहनी थी और ना पैंटी पहनी थी. वह मेरे सामने पूरी नंगी खड़ी थी. उन्होंने मेरे सारे कपड़े उतार दिए और 69 पोजीशन में आ गए. अब में उनकी चूत को अपनी जीभ से मस्त चाट रहा था और वह मेरा लंड चूस रही थी. वह 20 मिनट में दो बार झड़ चुकी थी और मैंने उनके मुंह में अपना माल गिरा दिया, वह सारा का सारा माल पी गई.

भाभी ने मुझे कहा तुम्हारा लंड तो तुम्हारे भाई से भी बड़ा है और ज्यादा टाइम तक भी चलता है. यह कह कर वह फिर मेरे लंड को चूसने लगी और 5 मिनट में मेरा लंड तैयार हो गया. भाभी ने कहा की बढ़िया हे देवर जी अब जल्दी से मेरी चूत की प्यास को बुझा दो. चोद दो अपनी रंडी भाभी को और तुम्हारा भाई आज तक मेरी चूत को खुश नहीं कर पाया. मैंने भाभी के पैर अपने कंधो पर रखे और एक ही झटके में अपना पूरा लंड उनकी चूत में घुसा दिया वह रो पड़ी और मुझे कस के पकड़ लिया कुछ देर बाद वह साथ देने लगी और आवाजे निकालने लगी.

यह कहानी भी पड़े  एक हसीन शाम भाभी के साथ

और चोदो अपनी रंडी भाभी को और जोर से करो आहाह हह्ह्ह रखेल बना दो अपनी देवर जी, मैं अब तुम्हारी हूं.

और 20 मिनट चोदने के बाद मेरा होने वाला था मैंने कहा की भाभी मेरा होने वाला है, उन्होंने कहा अंदर ही गिरा दो, बना लो इस रंडी को अपने बच्चे की मां देवर जी, और वह तब तक दो बार झड़ चुकी थी और मैंने भी अपना सारा माल अंदर ही गिरा दिया. वह पूरी तरह से खुश हो गई और कहा आज जन्नत का मजा आया देवर जी रोज इसी तरह इस रंडी की प्यास बुझाने आना.

फिर हम दोनों नंगे ही चिपक के सो गए. फिर सुबह 4:00 बजे मुझे कुछ अजीब लगा मैंने देखा कि भाभी मेरा लंड चूस रही थी. उस वक्त मुझे लगा कि मैं आसमान में उड़ रहा हूं और कोई परी मेरा लंड चूस रही है. जब मेरा पूरा खड़ा हो गया तब भाभी ने कहा देवरजी क्या इरादा है? मैंने कहा था कि मैं आपकी गांड मारना चाहता हूं. उन्होंने कहा मैं भी तुम्हारा लंड हर जगह डलवाना चाहती हूं. उन्होंने यह कह कर वह बाथरुम से तेल लेकर आई और अपनी गांड में लगाने लगी और फिर मेरे लंड पर तेल लगाने लगी और फिर उन्होंने गांड मेरी तरफ की और बोली लो मार लो अपनी भाभी की गांड.

फिर में धीरे धीरे उनकी गांड में लंड डालने लगा और उन्हें काफी दर्द हो रहा था फिर और उनकी गांड से खून निकल रहा था फिर कुछ ही देर में मेरा पूरा लंड की गांड में गायब हो गया और वह मजे से चुदने लगी मारो अहहह अह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह्ह और मारो रंडी की गांड और बहुत मजा आ रहा है

यह कहानी भी पड़े  अपनी सगी भाभी को पटा कर चोदा

मैं तो अपनी रंडी की गांड मार रहा हूं. हां मैं तुम्हारी रंडी ही हु. मुझे तुम रंडी ही बोलो. और रोज मारा करो मेरी गांड. 20 मिनट के बाद उनकी गांड में जड गया और जैसे ही मैंने लंड बाहर निकाला उन्होंने मेरा लंड मुंह में ले लिया और फिर हम साथ में नहाने चले गए. जहां उन्होंने मुझे अपने ऊपर मुतने को कहा मैंने किया. फिर मैं अपने रूम में आकर सो गया. और जब तक भैया आते मैंने भाभी को 10 दिन में 30 बार चोदा.

Pages: 1 2

error: Content is protected !!