मजबूरी मे बुड्ढे से चुद गयी

हाय फ्रेंड्स, पूजा हियर सॉरी मैं लोंग टाइम से आ नही पाई बिज़ी थी मेरी पहली स्टोरीस आपने पढ़ी होगी नही तो पढ़ लो और मेरी मैल आईडी है मेरे हब्बी अब यूएस मे है और यहा मैं अकेली रहती हूँ मैं रेंट पर रहती हूँ और मेरे सास ससुर अलग सिटी मे है और मैं वीक मे एक बार मिलने ज़रूर जाती हूँ और ये कहानी लास्ट मंत की है, मेरी उमर 26 साल है फिगर 34,29,30 है और टॉल हूँ फेर भी मेरा कोई अफेयर नही मैं टोटली ऑनेस्ट हूँ हज़्बेंड से, तो एक दिन मैं ड्यूटी से आई उस दिन फ्राइडे था मैने चेंज किया और कपड़े भी पूरे वीक के धोने को पड़े थे तो मैने वॉशिंग मशीन लगाई और धोने लग गयी, मैने टी-शर्ट और शॉर्ट्स पहनी थी और मैने ब्रा नही पहनी टी-शर्ट टाइट थी तो मेरे निप्पल सॉफ बाहर दिख रहे थे, मैने मिरर के सामने अपने आप को देखा वाउ मेरा खुद का मन खराब हो गया, खैर मैं बाहर कपड़े धो रही थी.

और मैं 2न्ड फ्लोर पर रहती हूँ मुझे अंकल ने आवाज़ लागया बोले जल्दी आओ एमर्जेन्सी है तो मैं मशीन ऑफ करके भागी नीचे गयी और अंकल सीडीयों पे थे मेरे बूब्स बाउन्स कर रहे थे और अंकल का ध्यान उन पर ही था, मैने देखा की उनकी नज़र मेरे बूब्स से हट ही नही रही थी तो मैने कहा क्या हुआ तो वो बोले तुम्हारी आंटी की तबीयत खराब है देखो तो ज़रा, मैं गयी बीपी चेक किया उन्हे मेडिसिन दी और देखा अंकल का ध्यान मेरी गॅंड पर था तो मैं भी मज़े लेने लगी और जान बूझ कर मटक कर चलने लगी, अंकल भी सीडीयों से सीधा मुझे देख रहे थे पर खैर मैने कपड़े धोए और खाना बनाया और थोड़ा बाहर मार्केट गयी और पड़ोस मे आंटी है उनके साथ, मैने अपने अंडरगार्मेंट्स बाथरूम मे टाँग दिए और बाकी कपड़े बाहर थे तो खैर मैं आई और देखा डोर लॉक था बेल बजाई, तो काफ़ी टाइम बाद अंकल आए और उनकी साँस काफ़ी तेज़ थी जैसे भाग कर आए हो देखा की थोड़ा डरे हुए भी थे.

यह कहानी भी पड़े  दोस्त के साथ मिल कर हाईफाई औरत की चूत गांड की चुदाई की-3

खैर मैने उनसे पूछा की आंटी की तबीयत कैसी है अब तो वो बोले की ठीक है सो रही है, खैर मैं उपर गयी और समान किचन मे रख के बाहर आई और बाथरूम गयी तो मेरी ब्रा पैंटी कुछ फ्लोर पर गिरी पड़ी थी तो मैं कुछ समझ नही पाई की कैसे, खैर मैं किचन मे गयी और खाना खाया डोर लॉक किया रात के 10 बजे थे टीवी लगाया और लेट गयी और फिर कुछ आवाज़ सुनाई दी तो मैं डर गयी की इस टाइम उपर कोण आया होगा, पर मैने हिम्मत की और धीरे से डोर ओपन किया और देखा की बाथरूम की लाइट जल रही थी और फिर देखा की डोर हल्का सा ओपन था, मैने जैसे ही अंदर देखा ओह ये क्या अंकल मेरी पैंटी की स्मेल कर रहे थे और मेरी ब्रा पर अपना ढीला सा लॅंड घिस्सा रहे थे ओह शिट मेरी सारी ब्रा गंदी कर दी उनका माल मेरी ब्रा और पैंटी पर था, फिर उन्होने मेरी ब्रा पैंटी सॉफ की अछी तरहा से मैं साइड मे हो गयी और फिर वो चले गये नीचे, फिर मैं भी सोचने लगी की बूढ़े का दिमाग़ खराब हो गया है.

खैर मैं सोने गयी पर अंकल की नियत तो तभी पता लग गयी थी जब मेरे बूब्स को घूर रहे थे और फिर सुबह मैं ड्यूटी पर गयी और शाम को वापिस आई और घर जाना था फोन किया तो पता चला मेरे सास ससुर मेरी ननद के वाहा थे, खैर मंडे एक दिन बाद मेरा बर्थडे भी था तो मैं नीचे आई और आंटी के पास बैठी और बीपी चेक किया और आंटी बोली आज यही रुक जा अंकल कही गये हुए है तो मैं रुक गयी और दोनो का खाना बनाया और मैं भी वही आंटी के पास सो गयी, वो रूम मे थी और बोली तेरे अंकल पास ही गये है खुद आ जाएगे, मैने शॉर्ट नाइटी पहनी थी और मेरे नी तक थी और मैं भी बाहर सोफे पर लेट गयी और मेरी आँख लग गयी और करीब लेट नाइट फील हुआ की कोई मेरी जाँघ सहला रहा है, फिर मेरी पैंटी को उपर से हाथ फेर रहा हो और उसकी साँस मुझे नीचे फील हो रही थी, तो फिर तभी मैने आँखे खोली और अंकल मस्त आँखे बंद करके मज़े ले रहे थे.

यह कहानी भी पड़े  शादी से पहले चुदवाना पड़ा

तो फिर मैने भी शरारत की उनका सर पकड़ कर पैंटी पर दबा दिया और वो डर गये और उठे तो मैने कहा उपर आओ नही तो आंटी को बता दूँगी, वो चुप-चाप आ गये और मैने रूम का डोर लॉक किया और पूछा कब से चल रहा है ये सब, तो वो बोले काफ़ी दिन से तो मैं भी अकेली थी मेरा भी मन था तो सोचा इस बूढ़े से काम निकलवा लून, तो मैने अपनी नाइटी उतार दी और सिर्फ़ ब्रा पैंटी मे आ गयी रेड कलर की और अंकल की आँखे फटी रह गयी और मैने उन्हे कहा सिर्फ़ उपर से जो करना है करो ताकि मुझे भी मज़ा आए तो उन्होने अपने सारे कपड़े उतार दिए, तो मैने कहा की डरो नही आंटी सुबह 10 बजे से पहले नही उठेगी और फिर उन्होने अपना अंडरवेर भी उतार दिया और उनका लॅंड 5 इंच का होगा पर स्किन ढीली थी और टटटे भी बिल्कुल नीचे लटक रहे थे, मैने उनका लॅंड पकड़ा जो बिल्कुल ठंडा था मैने कहा हॉट लड़की न्यूड खड़ी है आपका लॅंड खड़ा नही हो रहा.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

error: Content is protected !!