कची उमर मे काली बन गयी

हेल्लो दोस्तो कैसे हो आप सब! मेरा नाम अनिका है. मैं 24 साल की हूँ. मैं दिखने मे काफ़ी सेक्सी हूँ. मेरा फिगर बहोत ही मस्त है.और होये भी क्यू ना आख़िरकार मैं हूँ ही इतनी सेक्सी.

मेरी शादी को अभी 4 महीने ही हुए है. अब आपके माइंड मे ये बात भी आ गई होगी की अभी तो नयी नयी शादी हुई है फिर भी इतनी जल्दी क्यू पड़ी है.

ये सब मैं आपको बताउंगी और मैं अपनी कहानी भी ले कर आई हूँ वो भी आपको बताउंगी. बस आपको थोड़ा इंतेज़ार करना पड़ेगा और तो ज़्यादा कुछ न्ही.

अब कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको अपने बारे ने बता देती हू. मेरा नाम तो जान ही गये हो और उसके इलावा अब मेरा फिगर भी आपको बता ही दिया है.

चलो अब मैं थोड़ा और आपको बता देती हूँ. मैं जब नयी नयी जवानी की उम्र मे थी यानी की तब मैं 18 साल की थी जब मेरी चूत मे पहली बार लंड चला गया था. उसके बाद तो मैने अधिकतर बार लंड लिए है.

और अब तो आप इतना जान ही गये हो की मैं कैसी हूँ और कितनो के लंड ले रखे है. पर मेरे पति का लंड बहोत ही छोटा है. उनका लंड 6 इंच का है और मैं तो बड़े लंड लेने की आदि हूँ. मुझे अपने पति से चुदने मे बहोत ही अजीब लगता है. अजीब भी क्या मज़ा ही न्ही आता है.

चलो ये सब छोड़ो अब मैं आपको अपनी कहानी पर ले कर चलती हूँ.

ये कहानी तब की है जब मैं 18 साल की थी. मैं तब अपनी बुआ की बेटी की शादी अटेंड करने गई हुई थी. यानी की तब मेरी ज़िंदगी मे पहली बार लंड मिला था.

यह कहानी भी पड़े  Didi Ki Chudai Kiya

तब मेरे वाहा पर सब आ रखे थे और मेरे भाई के दोस्त भी आ रखे थे. मैं अपने फ्रेंड सर्कल मे ज़्यादा रहती हूँ और उनके अभी से एक के 3 -3 बाय्फ्रेंड है और वो हमेशा खुद को चुदवाति रहती है.

वाहा पर मुझ पर मेरे भाई के दोस्त ने मुझ पर लाइन मारी.तब सबके साथ रहने के बाद मेरे अंदर भी कीड़ा जाग गया था. यानी की मेरा भी मन करता था की मैं चूत मे लंड घुस्वा डालु.

तब मेरे भाई के दोस्त का ख्याल आया. उसका नाम अमित था और वो काफ़ी हॅंडसम था. तब जब मुझे ल्गा की मैं इससे चुद सकती हूँ तो मैने उससे बात करनी शुरू करदी.

बात करने के बाद मैं अब उससे अच्छे से घुल मिल गई थी. और तो और वो भी मेरे साथ था यानी की अब उसे भी बहोत अच्छा लग रहा था मुझसे बात करना. और फिर उसने मेरे को टच किया तो मैं उसे कुछ भी न्ही बोली क्योकि मैं तो चाहती ही यही थी.

फिर ऐसे ही उसने मुझे कमर से पकड़ लिया और फिर ऐसे ही उसने मुझे गाल पर किस कर डाली. मैं भी उसके एक किस से पागल हो गई और तो और फिर बस उसने मुझसे कहा की सामने वाले घर पर आ अगर तू मुझसे प्यार करती है तो.

तब मुझे ये सुन कर मज़ा भी आया और डर भी ल्गा की आख़िरकार मैने ये क्या कर दिया. कही ये ग़लत तो न्ही है. पर ऐसा कुछ न्ही था क्योकि मैने ये बात अपनी फ्रेंड से भी करी तो वो मुझे कहने लग गई की जब बुलाया है तो चली जा.

यह कहानी भी पड़े  पंजाबी गर्ल की सेक्सी वजाइना चोदी

तब मैं उनके कहने पर चली गई और फिर जब मैं वाहा पर पहुँची तो उसने मुझे अपनी बाहो मे भर लिया. बाहो मे जाते ही उसने मेरे होंठो को चूसना शुरू कर दिया.

होंठो को चूस्ते हुए उसे बहुत मज़ा आ रहा था और तो और मुझे भी काफ़ी मज़ा आ रहा था. इसलिए अब मैं भी काफ़ी मज़े के साथ मज़े ले रही थी. फिर उसके बाद उसने मुझे बिस्तर पर लेटाया और फिर उसके बाद वो मेरे कपड़े उतारने लग गया.

कपड़े उतारने के बाद मैने उसे भी नंगा कर दिया.और फिर उसके बाद मैने ऐसे ही उसके लंड को देखा तो मैं तो देखती ही रह गई. फिर उसके बाद मैने उसके लंड को मूह मे ले कर चूसना शुरू कर दिया.

लंड को चूसने मे पहले तो मुझे बहोत मज़ा आ रहा था पर साथ ही साथ मैं बोल्स को भी चूसने लग गई जिससे की उसे भी मज़ा आने लग गया और मुझे भी बहोत मजा आ रहा था.

अब ऐसे ही फिर मैने भी काफ़ी देर तक लंड चूसा. और फिर उसके बाद वो मेरे बूब्स चूसने लग गया और तो और फिर मुझे मजा आने लग गया. फिर वो धीरे धीरे नीचे चला गया और मेरे बूब्स चूसने लग गया.

और फिर वो नीचे जा कर मेरो चूत चाटने लग गया. मैं तो जैसे जन्नत मे आ गई और फिर उसने धीरे धीरे मेरी चूत मे उंगली डाल दी और फिर ऐसे ही मैं झड़ गई.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

error: Content is protected !!