होटल में सेक्स बॉयफ्रेंड से

मैंने होटल में सेक्स किया अपने बॉयफ्रेंड से ! कैसे? मेरे ऑफिस की सहेली के कई बॉयफ्रेंड्स हैं, वो उनसे खूब चुदवाती है. उसने चुदाई की बातें बताकर मेरी वासना जगा दी और…

हेल्लो फ्रेंड्स, मेरा नाम सोनी है. मेरे परिवार में मैं और मेरे मम्मी पापा और मेरा एक भाई है. मेरा एक साधारण परिवार है लेकिन हम लोग बहुत अच्छे से रहते हैं. मेरा भाई मुझसे बड़ा है. मेरी मम्मी हाउसवाइफ है और पापा का अपना काम है और भाई नौकरी करते हैं.

मैं भी एक अच्छी सी जगह नौकरी करती हूँ जो मेरे भाई ने लगवाई है. मैं और मेरा भाई हम दोनों साथ में ही नौकरी करने जाते हैं. मैं अपने भाई एक साथ ऑफिस जाती थी और अपने भाई के साथ ऑफिस से आती थी.

मैं अपने आपको बहुत अच्छे से रखती हूँ मतलब मैं बहुत खूबसूरत हूँ. मेरा फिगर भी बहुत अच्छा है और मेरी गांड थोड़ी सी सेक्सी है. मतलब कि जब मैं चलती हूँ तो मेरी गांड ऊपर नीचे हिलती है. मेरी चूची भी बड़ी बड़ी है और मैं खाते पीते घर की हूँ तो मेरा फिगर बहुत अच्छा है.

मुझे ऑफिस में बहुत सारे लोग घूरते रहते है. ऑफिस में एक लड़की जिसका नाम मौलीश्री है, मेरी सहेली बन गयी और हम दोनों एक दूसरे से घुलमिल गयी. वो लड़की बहुत चालू थी और उसने ऑफिस में ही कई बॉयफ्रेंड बनाये हुए थे. वो सबसे मजा लेती थी.

ऑफिस में और उसके साथ रहते रहते ऑफिस में एक लड़के जगेश के साथ मेरी भी बातें होने लगी. मेरे भाई को ये बात पता नहीं थी कि ऑफिस में एक लड़का मेरा दोस्त बन गया है. मेरी सहेली मौलीश्री एकदम खुल कर बात करती थी और उसके साथ रहते रहते मैं भी खुल गयी थी.

यह कहानी भी पड़े  गाँव में सेक्स चचेरी बहन के साथ

एक दिन मैं अपने रूम में सो रही थी तो भाई के रूम में लाइट चालू थी. भाई हमेशा अपने रूम की लाइट बंद करना भूल जाते थे इसलिए मैं उनके रूम में उनके रूम का लाइट बंद करने के लिए गयी तो देखा कि भाई अपने मोबाइल में पोर्न देख कर मुठ मार रहे थे.

मैं ये खिड़की से देख कर बाहर आ गयी. भाई को देख कर मुझे भी अपने मोबाइल में पोर्न देखने का मन किया तो मैं अपने मोबाइल में पोर्न देखने लगी.

मेरे मोबाइल में पोर्न पहले से ही था क्योंकि मेरे ऑफिस में जो लड़की मेरी सहेली बनी थी, वो मुझे हमेशा पोर्न भेजती रहती थी. उसके बॉयफ्रेंड उसको पोर्न विडियो भेजते थे तो वो मुझे भेजती थी. मैं उससे दोस्ती करने के बाद ही इतना बिगड़ गयी थी कि मैं रोज मोबाइल में पोर्न देखने के बाद और अपनी चूत में उंगली करने के बाद ही सोती थी.

मैं अपनी ऑफिस वाली सहेली मौलीश्री के साथ रहते रहते कभी कभी भाई से छुपकर घूमने भी चली जाती थी. मौलीश्री मेरे घर से कुछ दूरी पर रहती थी और वो अपनी स्कूटी से आती थी तो हम दोनों सहेलियां जिस दिन हम लोग की छुट्टी रहती थी, घूमने जाती थी.

मैं भी अपने ऑफिस वाले लड़के से बात करती थी और ऐसे ही मौली के कहने पर मैं भी उसके साथ घूमने जाने लगी.

हम दोनों एक दिन घूमने गए थे और जगेश ने मुझे उसकी गर्लफ्रेंड बनाने के लिए मुझे कहा. उस वक्त तो मैंने उसे कुछ नहीं कहा पर अगले दिन मैंने अपनी सहेली से पूछने के बाद उसको हाँ बोल दी.
और अब मैं और जगेश हम दोनों एक दूसरे के साथ रोज बात करने लगे.

यह कहानी भी पड़े  वर्जिनिटी तोड़ी वर्जिन बाय्फ्रेंड के साथ

मेरी सहली मौली मुझे बताती थी कि वो अपने बॉयफ्रेंड से कैसे चुदाई का मजा लेती है तो मुझे भी चुदवाने का मन करता था और मेरी चूत भी गीली हो जाती थी. मैं मौली से पूछती थी कि ‘कैसे चुदवाती हो’ तो वो सब कुछ खुल कर बताती थी.
मेरे अन्दर की वासना जग गयी थी और मुझे भी चुदवाने का मन करता था. मैं रोज रात को अपनी चूत उंगली करती थी लेकिन अब मेरा उंगली करने से भी ज्यादा सेक्स करने का मन करता था.
मेरी सहेली ने मुझे बताया कि मैं अपने बॉयफ्रेंड के साथ होटल में जाकर सेक्स कर लूं क्योंकि वो भी अपने बॉयफ्रेंड के साथ होटल में जाकर सेक्स करती थी.

एक दिन मेरे बॉयफ्रेंड जगेश ने मुझे किस करते हुए बोला कि वो मेरे साथ सेक्स करना चाहता है. हम दोनों बहुत दिन से एक दूसरे के साथ थे. मैं भी सेक्स करना चाहती थी तो मैं भी मान गयी. मेरी सहेली के बताये होटल में जाने का हम दोनों ने एक दिन तय कर लिया. मैं बहुत खुश थी कि आज मुझे लंड से चुदवाने के लिए मिलेगा क्योंकि मैं अपनी चूत में उंगली करते करते एकदम बोर हो गयी थी. मुझे लंड से चुदवाने का मन करता था.

मैं और मेरा बॉयफ्रेंड दोनों होटल में गए और उसने रूम लिया. होटल रूम में जाने के बाद हम एक दूसरे को किस करने लगे. वो मुझे किस करते हुए मेरी गांड को भी दबा रहा था.

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!