गर्लफ्रेंड की मर्द का लंड देखने की इच्छा

फुल क्लीन शेव चुत देख कर मेरा लंड अन्दर और टाइट हो गया. नई अंडरवियर के कारण लंड बाहर को उतना नहीं उठ पाया था, पर उसने ये महसूस कर लिया था कि लंड फूल रहा है.

फिर जब उस ने मेरी अंडरवियर को धीमे से नीचे खींचा तो मेरा लंड स्प्रिंग की टेंशन की तरह उछल कर 90 डिग्री पर खड़ा हो गया. उसका मुँह ये देख कर खुला का खुला रह गया. मैंने अंडरवियर उतार दी. अब हम दोनों पूरे नंगे थे. उसके चेहरे पे बहुत उत्सुकता थी. उसके दिमाग में बहुत सवाल थे.

पहला सवाल उसने पूछा कि इतना बड़ा आइटम पैंट में अन्दर कैसे रहता है? इतना बड़ा मैं कैसे लूँगी? क्या सभी का इतना बड़ा होता है..? मैंने तो बच्चों का देखा है.. उनका तो बहुत छोटा होता है. ये इतना बड़ा कैसे हो गया है?
मैंने उससे कहा कि तुम आराम से लंड को देखो.. मैं बेड पर लेट जाता हूं. तुम लंड को हाथ में लेकर देख लो.

वो मान गई.. पर मेरा मन उसकी बॉडी पर टिका था, वैसे भी मज़ा तो लंड को देने और चुत लेने दोनों में ही आता है.

मैं बेड पर लेट गया और वो मेरी टांगों के बीच में आकर मेरे लंड को देखने लगी. मैंने उसका हाथ पकड़ कर लंड पर रखा. सच में वो अहसास कितना मज़ेदार था.. उसके हाथ का गरम स्पर्श. मुझे लगा कि मेरा काम इतने में ही हो जाएगा. पर मैंने किसी तरह कंट्रोल किया.
उसने हाथ में लेकर सभी सवाल फिर से पूछे.

मैंने कहा- ये नॉर्मली इतना बड़ा नहीं रहता है, ढीला रहता है. तभी पेंट में बंधा रहता है.

वो मेरे लंड को बड़े आश्चर्य से देख रही थी और उसे हिला कर जोर से पकड़ कर देख रही थी. मैंने लंड की स्किन जब नीचे की, तो उसकी आँखें खुली की खुली रह गईं. मेरे लंड का सुपारा उसे बहुत अच्छा लगा.

यह कहानी भी पड़े  दमन में चुदाई

उसने पूछा- सूसू कैसे और कहां से निकलती है. बेबी को पैदा करने के लिए कौन सा छेद है और ये किधर होता है.

मैंने उससे मेरे लंड को किस करने को कहा, तो मना करने लगी. मैंने उससे लंड के पास में किस करने को कहा तो उस ने जोरदार किस किया. धीमे धीमे उसने लंड को भी किस कर दिया. उसे लगा मुझे पता नहीं चलेगा कि उसने लंड को किस किया है.

मुझे मज़ा आ रहा था. अब मैंने कहा मुझे उसकी चूत देखनी है.

तब वो लेट गई और मैं उसके पैरों के बीच में आ गया. क्या मस्त क्लीन शेव चुत थी. मैंने उसकी चूचियों को दोनों हाथ में भर लिया. वो दोनों कितने मुलायम मम्मे थे.

मैंने उन्हें प्यार से दबाया तो वो चिंहुक उठी. मैंने फिर उसकी चूत की ओर हाथ बढ़ाया. उसकी चूत पर उंगली रखी और ऊपर से उसे सहलाया तो वो फिर से चिंहुक उठी.
मुझे मज़ा आ गया, मैंने उस की चूत की तारीफ़ की, मैं बोला- तुम्हारी बिल्कुल पोर्न मूवी टाइप एक्ट्रेस वाली बॉडी है.

वो खुश हो गई. मैंने देर न करते हुए उसकी चूत पर किस कर दिया, इसके लिए वो तैयार नहीं थी, पर उसे मज़ा आया, उसने कहा- बस किस ही करना.. और कुछ मत करना.

मैंने हाँ की और किस करना शुरू किया. उसकी आंखें बंद हो गईं तो मैंने एक हाथ से नीचे लंड को एडजस्ट किया और फिर उसके मम्मों पर हाथ ले गया.

इस तरह वो चूत और मम्मों, दोनों का मज़ा ले रही थी. इधर मेरे लंड का बुरा हाल था. उसकी चूत मुझे गीली महसूस हुई, पर मुझे लगा मेरे मुँह की लार से ये गीली हो गई है.

यह कहानी भी पड़े  दोस्तों की मकानमालिकिन आंटी की चुदाई

उसकी चूत का टेस्ट नमकीन था. तब मुझे लगा कि उसकी चूत ने ही कुछ छोड़ा है. वो ढीली भी पड़ गई थी. उसकी चूत का पानी निकलने पर वो शरमा गई लेकिन कुछ नहीं बोली.

मैंने भी कुछ नहीं पूछा. बस मज़ा लेता रहा. सच में पहली बार चुत के रस का टेस्ट लिया था, कितना एक्साइटिंग एक्सपीरियंस था.

उसके झड़ने के बाद भी मैं उसकी चूत में में लगा रहा. वो फिर से गरम हो रही थी और बुरी तरह से आवाज़ निकल रही थी. उसे ऐसे आवाज निकालने में शरम आ रही थी. फिर भी कंट्रोल नहीं कर पा रही थी.

फिर मैंने उससे कहा कि मेरे लंड को प्यार करो.
वो बोली- कैसे करूँ.. तुम मेरा चूसना बंद मत करो.. मुझे मज़ा आ रहा है.

मैंने चुत की और चुसाई की.. फिर उसके निप्पल को मसलते हुए कहा- मेरे लंड को भी प्यार करो ना.

वो मान गई, पर बोली- तुम भी मुझे करते रहो.
तब मैंने कहा- चलो 69 करते हैं.
उसने पूछा- ये क्या होता है?
मैंने कहा- मैं नीचे आ जाता हूं.. तुम मेरे ऊपर आकर मेरे मुँह पर चुत रखो और मेरे ऊपर लेट कर मेरे लंड को प्यार करो.

उसे ये तरीका मस्त लगा. वो तुरंत मेरे ऊपर आ गई. जब लड़की गर्म हो जाती है तो सेक्स के लिए किसी भी हद तक जा सकती है. उसने मेरे ऊपर आकर लंड को हाथ में लिया और लंड की स्किन ऊपर नीचे करने लगी. उसे पता था उसे लंड को चूसना है, पर उसे मन से चूसने की इच्छा नहीं हो रही थी.

Pages: 1 2 3 4 5

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!