गर्लफ्रेंड ने चूत चुदाई के लिए घर बुलाया

मेरी गर्लफ्रेंड सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी दोस्ती अपने मोहल्ले की एक हॉट सेक्सी लड़की से हुई और एक रात उसने मुझे अपने घर बुला कर सेक्स किया.

दोस्तों और अन्तर्वासना के सभी पाठकों को नमस्कार. मेरा नाम राज़ है मैं उत्तर प्रदेश के बरेली से हूँ. अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली सेक्स कहानी है. अपनी इस गर्लफ्रेंड सेक्स कहानी को शुरू करने से पहले ही मैं इसमें होने वाली गलतियों के लिए क्षमा प्रार्थी हूँ.

पहले मैं आप सभी को अपनी हॉट गर्लफ्रेंड के बारे में बता रहा हूँ. मेरी गर्लफ्रेंड का नाम ज़िया है. ज़िया बहुत ही सेक्सी, हॉट और मस्त लड़की है, जिसके पीछे मोहल्ले के सब लड़के पड़े थे. ज़िया का फिगर 30-28-32 का है. उसकी गांड एकदम गोल है और नुकीली चूचियां मस्त मुलायम हैं. उसकी चूचियों को दबाने में बहुत मज़ा आता है. ज़िया का रंग बिल्कुल दूध सा सफेद है.

ये बात तब की है, जब मैं ग्रेजुएशन कर रहा था और वो भी ग्रेजुएशन कर रही थी. हम लोग शुरू से साथ में ही पढ़े हैं. जबसे हम दोनों जवान हुए तब से मेरी उसके प्रति फीलिंग बदल गई थी. उस समय वो मेरे साथ पढ़ती जरूर थी, लेकिन मेरी जिया से बात नहीं होती थी.

उन्हीं दिनों की बात है. मुझे एक बार उसकी मदद चाहिए थी, तो मैंने उसको फ़ोन करके बोला. उसने झट से हां कह दिया और हम लोगों की हर रोज़ बात होने लगी. उसकी बातों से मुझे लगने लगा कि ये भी मेरी तरफ आकर्षित थी.

ज़िया के माता पिता नहीं हैं. वो अपने मामा के साथ रहती है. उसको एक हमदर्द की जरूरत थी, जबसे मेरी उससे बात होना शुरू हुई, तो वो मुझे अपने घर की सब बातें बताने लगी थी. उसकी मामी उससे ही घर का सब काम करवाती थीं, जिससे ज़िया बहुत परेशान थी. ज़िया मुझसे इन्हीं सब बातों को करके अपना दुःख मुझसे बांट कर बहुत हल्का महसूस करती थी.

यह कहानी भी पड़े  सर ने कॉलेज में मुझे लंड चुसाया और चोदा

इसी तरह मैसेज के द्वारा भी ज़िया और मैं धीरे धीरे बहुत ही ज़्यादा बात करने लगे थे. फोन से बात कम ही हो पाती थी.

एक दिन मैंने ज़िया से बोला- मैं तुमसे कुछ कहना चाहता हूँ.
उसने भी बोला- हां मैं भी तुमसे कुछ कहना चाहती हूँ.
मैंने उससे कहा- ओके पहले तुम अपनी बात कहो.

मुझे लगा कि मुझे पहले जिया की मानसिक स्थिति जान लेनी चाहिए उसी के मुताबिक़ मैं अपनी बात कहता.

उसने कहा- नहीं मैं अपनी बात बाद में कह लूंगी … पहले तुम कहो, क्या कहना चाहते हो.

हम दोनों में ही ‘पहले आप … पहले आप …’ वाली स्थिति बन गई थी.

वो हंसने लगी और बोली- इस तरह से हम दोनों ही अपनी बात नहीं कर पाएंगे.

मैंने उसको हंसते हुए सुना, तो मैं समझ गया कि जिया इस वक्त अच्छे मूड में है. मैंने उससे एक बार फिर से कहा कि लेडीज फर्स्ट के अनुसार तुमको पहले कहना चाहिए.

वो बोली- जो बात मैं कहना चाहती हूँ, उसमें लेडीज फर्स्ट का चलन नहीं है. इसलिए तुम बोलो … उसके बाद मैं अपनी बात कहूँगी.

मैंने समझ लिया कि वो भी वही बात कहना चाहती है, जो मैं कहने वाला था. मैंने उससे ‘आई लव यू’ कहा.
तो उसने भरे गले से कहा- न जाने कब से इस लाइन को सुनने के लिए मेरे कान तरस गए थे … राज मैं भी तुमसे बहुत प्यार करती हूँ.

इस तरह हम दोनों ने एक दूसरे के सामने अपनी मुहब्बत का इजहार किया. मैं काफी देर तक उससे अपने दिल की बातें करता रहा और वो भी मेरे साथ मेरी जीवन संगिनी जैसे बातें करने लगी.

यह कहानी भी पड़े  जवान पड़ोसन लड़की की चूत चोदि

हम दोनों के बीच आपस में प्यार स्वीकृति की मुहर लगने के बाद हम दोनों के बीच बहुत ही सेक्सी बातें होने लगीं.

एक दिन वो मुझसे बोली- मैं तुमसे अकेले में मिलना चाहती हूँ.
मैंने भी हां बोल दी क्योंकि चूत की चाहत तो मुझे भी थी.

फिर वो एक रात आ गई, जिस रात हम दोनों एक हो गए, मैंने गर्लफ्रेंड सेक्स किया. उस दिन ज़िया के घर के सभी लोग शादी में गए थे. लेकिन ज़िया ने कोई बहाना बना कर जाने से मना कर दिया था. वो घर पर ही रुकी रही थी. शाम होते ही उसने मुझे फोन कर दिया और मैं उसके घर आ गया.

दरवाजे पर जो बल्ब जल रहा था, वो उसने बन्द कर दिया था, जिससे मुझे कोई अन्दर आता न देख सके.

मैं उसके घर गया, तो उसने दरवाजा खुला हुआ रखा था. उसने मुझसे फोन पर ही कह दिया था कि तुम इस बात का ख्याल रखते हुए घर में आना कि तुमको कोई पड़ोसी देख न सके.
मैंने इस बात का ध्यान रखा और उसके घर के खुले दरवाजे से सीधे अन्दर घुस गया.

मैं घर में घुसा, तो जिया ने फट से दरवाजा बंद कर दिया. मैंने पलट कर देखा, तो मैं देखता ही रह गया. आज ज़िया बहुत ही सेक्सी लग रही थी. उसने लैगी और टॉप पहना हुआ था, जो बहुत टाइट था.

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!