दीदी का चुदाई वाला जॉब इंटरव्यू

नमस्कार मेरा नाम राहुल है और मैं 18 साल का लड़का हूँ, जो की अपनी बड़ी बहन के साथ नया नया देल्ही में जी.बी रोड के पास शिफ्ट हुवा हूँ.

बेसिकली मैं पंजाब को बिलॉंग करता हूँ, मेरे मा पिताजी पजाब में रहते है, और उन्होने मुझे और मेरी दीदी जिनका नाम रीति है उनके साथ देल्ही में रुकवाया है.

मेरी दीदी की उम्र 24 है और वो दिखने में बहुत खूबसूरत और प्यारी है उनकी कमर पतली है और गांद बहुत मोटी, उनके बूब्स नॉर्मल साइज़ के होंगे और एक दम कड़क है किसी भी मर्द का वो खड़ा करा दे, उनके निपल्स कभी कबार उनकी टि-शर्ट से दिखते है दीदी की फिगर बहुत कमाल की है.

मैं और रीति दीदी देल्ही में आ तो गये पर घर चलाने के लिए हमे काम करना पड़ता था, इसकी शुरुआत मैने की मैं कोई छोटा मोटा काम कर लेता और घर में थोड़े पैसे आने लगे.

एक दिन मैं अपनी दीदी के साथ लड़ पड़ा क्यूंकी घर का खर्चा नही निकल रहा था, दीदी सिर्फ़ घर में बैठ के खा रही थी और उनका सारा बोझ मुझ पर आ रा था.

मैने दीदी को नौकरी करने को कहा और दीदी मान गये.

रीति दीदी ने कहा के मैं इतनी तो पढ़ी लिखी हूँ के किसी के ऑफीस में सेक्रेटरी का काम कर लूँ.

मैने कहा हा दीदी यह भी ठीक है मैं किसी ना किसी से बात करके रखुगा.

कुछ दीनो के बाद दीदी की जॉब अप्लिकेंट वाली फाइल का अप्रूवल हुवा और उन्हे आस पास की बस्ती में एक ऑफीस में बुलाया इंटरव्यू के लिए.

मैं जब वाहा गया तो वो एरिया एक दम गंदा था, वाहा पर काफ़ी लड़किया थी और लड़के भी काफ़ी मौजूद थे उस जगह पर दीदी ही काम करना चाहते थे.

यह कहानी भी पड़े  दुकान वाली लड़की की चूत

मैने दीदी को मन्ना किया के दीदी यह एरिया अच्छा नही है, लेकिन दीदी कहते एक बार इंटरव्यू देने में क्या हर्ज़ है.

मैने कहा हा आप कर लो अपना शौंक पूरा.

जैसे हम ऑफीस की तरफ गये आस पास के सभी लड़के दीदी की गांद की तरफ घूर घूर कर देखने लगे. क्यूंकी जैसे दीदी चल रहे थे. वो कभी एक तरफ तो कभी दूसरी तरफ हिल रही थी.

दीदी को देख कर कई आदमी तो अपना लंड पकड़ कर रगड़ने लगे, पर दीदी को पता नही क्या आग लगी थी और कहने लगे, मैने तो इंटरव्यू देना ही देना है.

जेसे ही हम ऑफीस पहुचे मैने देखा की वाहा का बॉस गोरा सा था और गंजा भी था उसको सारे वाहा जॉनी बुलाते थे. उसकी हाइट लगभग 6 फुट होगी और वो बॉडी बिल्डर लग रहा था.

उसने बड़े ही प्यार से दीदी से हाथ मिलाया और उन्हे ऑफीस में आने को कहा.

जेसे ही दीदी ऑफीस अंदर गये उसने मुझे बाहर रोक दिया और कहने लगा जॉब की इंटरव्यू उनकी है तेरी नही. मैं हैरान हूवा के यह आदमी मुझे ऐसे क्यू बोल रहा है, लेकिन दीदी के फेस पे एक स्माइल थी और वो बड़े ही प्यार से ऑफीस अंदर चले गये.

मेरे आधा घंटा बाहर बैठने तक दीदी नही आए मैं बहुत बोर होने लगा, बाहर अचानक ही अंदर से आवाज़ आई आआअहह.

मैने सोचा यह क्या मैं डर गया और एक बार आई वोही आवाज़ आआअहह. तभी मैं रूम के डोर के पास गया और धीरे से हल्का सा ऑफीस का दरवाज़ा खोला और देखा के दीदी टेबल पर घोड़ी बने हुए है और पीछे से आ कर जॉनी उसँके चूतड़ पर अपनी बेल्ट ज़ोर ज़ोर से मार रहा है मैं हैरान ही हो गया.

यह कहानी भी पड़े  पड़ोस की गर्लफ्रेंड को चोद कर अन्तर्वासना शांत की

जॉनी ने दीदी को ज़मीन पर फेंका और दीदी घुटनो के बल बैठ गये. दीदी ने अपने आप ही जॉनी की पेंट उतारी और, एक दम से ही दीदी के मुहह पे जॉनी का लंड बजा दीदी ने उस लंड को घूर्र घूर्र कर देखा, वो 9 इंच का लंड दीदी ने अपने हाथों में पकड़ा और उससे रगड़ने लगे.

दीदी ने जॉनी का लंड अपने मुहह में लिया और क्या मज़ेदार ब्लोवजोब दिया.जॉनी दीदी की तारीफ कर रहा था के वाह तुम तो मेरी सेक्रेटरी बन ने के लायक हो और प्यार से चाट बेबी!!!!

दीदी भी पूरे रंडी बन के अपने बॉस को मज़्ज़े देने लग गये और फिर दीदी ने उसके टटटे भी चाट दिए.

फिर जॉनी ने दीदी को अपने कॅबिन वाले टेबल पर लिटा लिया और दीदी की टाँगे खोल दी. मैं तो रीति दीदी की चुत देखकर हैरान रह गया, एक दम लाल थी और फटी पढ़ी थी.

जॉनी ने दीदी की चुत को चाटना शुरू किया और धीरे धीर फिंगरिंग भी शुरू की. दीदी की आवाज़े पूरे ऑफीस में गूँज रही थी अहह आहह अहह यअहह यअहह.

क्या दम था दीदी की आवाज़ो में आ हा मज़ा आ गया.

जॉनी ने फिर अपने लंड पर थुक्क फेंका और दीदी की चुत पर रख कर रगड़ने लगा. फिर एक दम ही रीति दीदी की चुत में जॉनी ने अपना लंड देखर दीदी की लेने लगा..

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

error: Content is protected !!