बीमार चाची के साथ रोमांस और सेक्स देसी कहानी

फिर मैं उठा मैंने अपनी पेंट उतारी और अपना लंड चाची के मुंह में दे दिया, उसने भी बिल्कुल पोर्न स्टार की तरह मेरे लंड को चूसने लगी, मैं तो जैसे जन्नत में था. ह उनके बाल मैंने पकड़े और उनके मुंह में चोदने लगा, और आगे पीछे करने लगा. मैंने अपना पूरा लंड उनके मुंह में डाल दिया और चोदने लगा. कुछ देर बाद उनके मुंह में ही झड़ गया और उन्होंने भी मेरा पूरा पानी पी लिया.

फिर मैंने उनकी चूत में दो उंगली डाली और आगे पीछे करने लगा, फिर मैंने तीन उंगली डाल दी उनकी चूत में.. चाची के मुंह से चीख निकल गई और मैं उनकी चूत में फिंगर अंदर बाहर कर रहा था, फिर मेरा लंड भी खड़ा हो गया. चाची ने कहा अब बर्दाश्त नहीं होता अपना लंड डाल दो अंदर वरना मैं मर जाऊंगी.. मैंने अपना लंड उनकी चूत पर रखा और एक जोरदार धक्का मारा, मेरा लंड का टोपा ही अंदर गया और चाची चिल्ला पड़ी.. धीरे मैं बहुत दिनों से नहीं चूदी हूं, और तेरा लंड भी बहुत बड़ा है.

मैंने उनकी बात नहीं सुनी और एक जोरदार धक्का मारा, मेरा आधा लंड अंदर चला गया चाची की आंख में आंसू आ गए. मैंने एक धक्का और मारा मेरा पूरा लंड चाची की चूत को चीरता हुआ चला गया, और चाची की आंख से आंसू बह रहे थे. मैं रुक गया और उनको लीप किस किया, थोड़ी देर बाद में अपना लंड आगे पीछे करने लगा और चाची को भी मजा आने लगा. इस बीच चाची झड़ गई और मैं उनको चोदे जा रहा था, और मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी. और उनके बूब्स को पकड़कर जोर जोर से चोदने लगा, और फिर १० मिनट बाद में की चाची की चूत में झड़ गया.

यह कहानी भी पड़े  मेरी मौसी सास को जमकर चोदा

और उनके ऊपर लेट गया और उनके बूब्स चूसने लगा. फिर हम 69 की पोजिशन में आ गए मैं उनकी चूत चाट रहा था, और वह मेरा लंड चूस रही थी. कुछ देर बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. मैंने उनसे कहा कि मैं आपकी गांड मारना चाहता हूं. फिर उन्होंने कहा नहीं मैंने आज तक अपनी गांड नहीं मरवाई है, और तुम्हारा लंड तो बहुत बड़ा है मुझे डर लगता है.. मैंने कहा विश्वास करो मैं धीरे करूंगा दर्द नहीं होगा, उन्होंने कहा ओके. फिर मैंने उनकी गांड देखी बहुत सेक्सी थी. मैं अपना मुंह वहां ले गया और सुंघा तो बहुत अच्छी महका रही थी. फिर मैंने चाची की गांड चाटी उनके छेद में अपनी जीभ लगाई, वह बोली यह तुम क्या कर रहे हो? उनकी गांड का टेस्ट काफी अच्छा था और फिर मैंने अपनी एक उंगली अंदर डाली बहुत मुश्किल से अंदर गई फिर मैं ओइल लेकर आया.

और उनकी गांड पर बहुत सारा ऑयल लगाया, और अपनी उंगली अंदर डाली. कुछ देर बाद मैंने अपना लंड टिकाया और एक धक्का मारा, अभी मेरा टोपा ही अंदर गया था कि चाची बोली की आह हहह ओह हां बाहर निकालो अपना लंड.. मैं रुक गया फिर कुछ देर बाद एक झटका और मारा और मेरा आधा लंड उनके गांड में चला गया, वह बहुत जोर से चिल्ला पड़ी मर गई मैं.. निकालो अपना लंड.. प्लीज निकालो.

मैंने एक झटका और मारा और मेरा पूरा लंड उनकी गांड में चला गया, फिर मैं कुछ देर रुक गया उनका पेन थोड़ा कम हुआ और मैं धीरे धीरे अपना लंड अंदर बाहर करने लगा. उनका दर्द भी कम हो चुका था और उनको भी मजा आने लगा. कुछ देर बाद वह भी गांड उठा उठा कर मेरा लंड लेने लगी और मैं भी उनकी गांड मारने लगा, १५ मिनट उनकी गांड मारने के बाद में उनकी गांड में ही झड़ गया और हम दोनों नंगे बिस्तर पर लेट गए.

यह कहानी भी पड़े  Padosan ki Virgin Ladki ki Chudai

चाची के चेहरे पर बहुत शांति थी और उन्होंने कहा तुमने तो आज मेरा दिल खुश कर दिया, अब जब भी तुम्हारा दिल करे तुम मुझे चोद सकते हो, फिर वह उठी उनसे तो चला भी नहीं जा रहा था, फिर मैं उनको लेकर बाथरूम में गया और बाथ लिया, हम तैयार हो गए फिर उन्होंने मुझे लिप किस किया और कहा आज का दिन तुमने मेरा यादगार बना दिया, आई लव यू..

Pages: 1 2

error: Content is protected !!