कुवारि गर्लफ्रेंड नॅन्सी की चुदाई

हेल्लो फ्रेंड्स, मैं अजय कुमार सोनीपत से आज आपके लिए एक बहुत मस्त कहानी ले कर आया हूँ. ये मेरी ज़िंदगी की पहली कहानी है, इसलिए मैं एक दम सच्ची घटना आप सब के साथ शेयर करने जा रहा हूँ.

मुझे उम्मीद है, आप मेरी मेहनत का फल मुझे ज़रूर अपने अच्छे अच्छे कोमेंट्स मे देंगे. ये कहानी एक दम सच्ची है, और ज़रा सा भी इसमे झूट न्ही है.

तो चलिए मैं आपको जल्दी से अपनी कहानी पर ले कर चलता हूँ.

ये बात तब की है, जब मैं स्कूल मे 10+2 क्लास मे स्टडी करता था. मेरी उम्र उस टाइम 19 साल थी. मेरे क्लास मे मेरे साथ एक लड़की पढ़ा करती थी. उसका नाम नॅन्सी था, उसकी उम्र 18 साल थी.

वो बहुत ही खूबसूरत और रूप की रानी थी. स्कूल के सारे लड़के उस पर मरते थे. सबके सब उसको एक बार अपनी रानी बनना चाहते थे. क्योकि नॅन्सी थी ही ऐसी. मैं आपको ज़रा डीटेल मे नॅन्सी के बारे मे बताता हूँ, ताकि आप को भी पता चले की नॅन्सी क्या चीज़ थी.

नॅन्सी की उमर 18 साल थी, उसकी जवानी उस पर आ गई थी. उसका फिगर 32-26-34 था. उसकी पतली कमर के सब दीवाने थे. और वो अपनी गांड को जान बुझ कर मटक मटक कर चलती थी. उसका रंग एक दम दूध जैसा गोरा था.

उसके गोरे चेहरे पर उसके गुलाबी होंठ सच मे काफ़ी मस्त लगते थे. उसके बूब हुमेशा उसकी शर्ट के बटन फाड़ कर बाहर निकलने के लिए तयार रहते थे. जब वो ज़ोर ज़ोर से सांस लेती थी, तो सब लड़के उसके बूब्स उपर नीचे होते हुए देख कर मज़ा लेते थे.

उन लड़को मे से मैं भी एक था. नॅन्सी और मैं एक बहुत अच्छे दोस्त या यूँ कह लो की हम दोनो गर्ल फ्रेंड और बॉय फ्रेंड थे. हम दोनो एक साथ स्कूल आते और जाते थे.

यह कहानी भी पड़े  मामा की बेटी की कुँवारी चूत

क्योकि हम दोनो के घर का रास्ता एक ही था. इसलिए हम दोनो एक साथ ही आते जाते थे. हम दोनो एक गाव मे रहते है, पर हम दोनो के गाव अलग अलग थे. हम दोनो का प्यार दिन रात बढ़ रहा था.

नॅन्सी भी शायद मुझसे प्यार करती थी, क्योकि वो पूरे स्कूल मे किसी भी लड़के से बात न्ही करती थी. पर स्कूल के सारे लड़के उससे एक बार बात करने के लिए तरसते थे.

ये सब देख कर मेरा प्यार और भी ज़्यादा हो गया. एक दिन मैने सोचा अब टाइम आगया है, की मुझे अपने प्यार का इज़हार नॅन्सी से कर देना चाहिए. क्योकि अब मैं रोज उसको सोच कर मूठ मारने लग गया था.

एक दिन मैं और नॅन्सी स्कूल वापिस घर आ रहे थे. हम दोनो एक दूसरे का हाथ पकड़ कर घर जा रहे थे. तभी मैने उसे आई लव यू कह दिया. पहले तो कुछ देर तक वो एक दम चुप हो गई.

इतने से टाइम मे मैने ना जाने क्या क्या सोच लिया था. खैर फिर वो 2 मिनिट बाद अपनी आँखें नीचे करके बोली.

नॅन्सी – आई लव यू टू अजय.

मैं – क्या सच मे, नॅन्सी यार मैं तुम्हे बहुत पसंद करता हूँ.

नॅन्सी – मैं भी.

फिर क्या था, मैं खुशी से पागल हो गया था. मैं उसका हाथ अपने दोनो हाथो मे ले लिया था. उसका हाथ पहले से ही गरम हो रहा था. मुझे लगा की शायद ही मुझे फिर ऐसा मौका नही मिलेगा.

मैने इधर उधर देखा वाहा पर कोई न्ही था. रास्ता एक दम सुनसान था, मैने तभी उसका हाथ खींच कर नॅन्सी को अपनी बाहों मे भर लिया. फिर मैने बड़े प्यार से उसके गाल पर किस करदी.

यह कहानी भी पड़े  मौसी की सेक्सी लड़की को रगड़ रगड़ के चोदा

नॅन्सी ने मुझे कुछ न्ही कहा, बल्कि शरम के मारे उसके गाल एक दम लाल हो गये थे. फिर मैने उसके होंठो पर अपने होंठ रख दिए, और ज़ोर ज़ोर से उसके होंठो को मैं चूसने लग गया.

नॅन्सी भी मेरा पूरा साथ दे रही, मैं मन ही मन बहुत ज़्यादा खुश था. क्योकि ये जो मैं कर रहा था, वो मैं लाइफ मे पहली बार कर रहा था. मुझे इसमे बहुत मज़ा आ रा था.

अब मैने उसके बूब्स को मसलना शुरू कर दिया. मैने महसूस किया, की नॅन्सी का जिस्म पहले से अब काफ़ी गरम हो रहा है. मैने अब उसकी शर्ट के उपर वाले दो बटन खोल दिए.

और अपना एक हाथ उसकी शर्ट मे डाल दिया, मेरे ऐसा करने से वो थोड़ी पीछे होने लग गई. पर मैने उसे पीछे होने न्ही दिया, उसके मुलायम बूब्स अब मेरे हाथो मे थे, जिसे मैं ज़ोर ज़ोर से मसल रहा था.

अब टाइम था की आज मैं नॅन्सी को किसी भी तरह से चोद दु. तभी मेरे दिमाग़ मे आइडिया आया की रास्ते मे एक टूटा हुआ घर आता है. जिसमे कोई भी न्ही जाता. मैने देखा की नॅन्सी पूरी गरम हो गई है, उसकी दोनो आँखें बंद थी.

फिर मैने उसे छोड़ दिया और उसको मेरे पीछे आने को काहा. इतने मे उसने अपने कपड़े ठीक किए, और मेरे पीछे पीछे आने लग गई. कुछ ही देर मे हम वाहा पहुच गये.

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!